Boot Computer Using CD or DVD in Hindi - CD या DVD से कंप्यूटर शुरू करे

What is Computer Booting? कंप्यूटर बूटिंग क्या है? :: कंप्यूटर बूटिंग को एक साधारण रूप में समझाया जा सकता है जब कंप्यूटर प्रारंभ या बूट करता है तो इस प्रक्रिया को कंप्यूटर बूटिंग ऐसा कह सकते हैं। 2 प्रकार के कंप्यूटर बूटिंग हैं

  • Cold Booting - कोल्ड बूटिंग
  • Warm Booting - वार्म बूटिंग

Cold Booting - कोल्ड बूटिंग :: यह एक ऐसी प्रक्रिया हैं जहा यूजर अपने कंप्यूटर कैबिनेट से पावर ON करते हैं जिससे उनका CPU [सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट] शुरू हो जाता हैं|

Warm Booting - वार्म बूटिंग:: वार्म बूटिंग एक प्रक्रिया है जब उपयोगकर्ता जानबूझकर सिस्टम को रीस्टार्ट करता हैं | ऐसा तब हो सकता है जब कंप्यूटर काम करना बंद कर दे यह फिर उसमे कोई खराबी आ जाये या फिर हैंग हो जाये |

यह भी पढ़े ::

Process of Computer Booting Using a CD or DVD - सीडी या डीवीडी का इस्तेमाल करते हुए कंप्यूटर बूटिंग की प्रक्रिया

जब उपयोगकर्ता अपने कंप्यूटर सिस्टम को शुरू करते हैं, तो सीपीयू स्वयं की जांच करता है, । सीपीयू के आरंभीकरण का हिस्सा सिस्टम के ROM BIOS को देखने के लिए है। ROM BIOS पहले अनुदेश संग्रहीत करता है, जो कि पूर्व-निर्धारित MEMORY पर पावर ऑन सेल्फ टेस्ट (POST) चलाने के लिए निर्देश है।

Computer Booting With CD|DvD in hindi Digital Versatile Disk

पोस्ट BIOS चिप की जांच करके शुरू होता है और उसके बाद CMOS रैम का परीक्षण करता है। अगर कोई CMOS [COMPLEMENTARY METAL OXIDE SEMICONDUCTOR] बैटरी विफल रहता है तो बायोस एक त्रुटि (CMOS Checksum Error) को प्रदर्शित करता है तो वह सीपीयू को आरम्भ करना जारी रखता है, कंप्यूटर हार्डवेयर (SOUND CARD, DISPLAY या VGA), माध्यमिक भंडारण उपकरणों, जैसे हार्ड ड्राइव और फ्लॉपी ड्राइव, ज़िप ड्राइव, PORTS और अन्य हार्डवेयर डिवाइस, जैसे कीबोर्ड और माउस जब पोस्ट ने सभी घटकों को ठीक से काम करने की जांच की है तो यहाँ सीपीयू [सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट] ने सफलतापूर्वक अपना काम बखूबी कर दिया होता हैं ... तो BIOS ऑपरेटिंग सिस्टम को लोड करना शुरू कर देता हैं।

यह भी पढ़े ::

जैसे (Win8, WinXP, Win10) फिर BIOS हार्ड डिस्क पर ऑपरेटिंग सिस्टम को खोजने के लिए CMOS चिप को बताता है ... अधिकांश कंप्यूटर ऑपरेटिंग सिस्टम में [OS] C ड्राइव पर इनस्टॉल होते हैं । आप BIOS सेटिंग को बदलने के लिए CMOS सेटअप पर भी जा सकते हैं ... आप एक सीडी, एक डीवीडी, पेन ड्राइव या हार्ड डिस्क का उपयोग कर अपने सिस्टम को बूट कर सकते हैं। और इस प्रकार कंप्यूटर शुरू करने की इस प्रक्रिया को बूटिंग के रूप में जाना जाता है।

How To Boot From a CD or DVD? कैसे एक सीडी और डीवीडी से बूट करते है?

ऑपरेटिंग सिस्टम को बदलने या OS सिस्टम फाइलों को बदलने के लिए आपको बस बूट करने योग्य सीडी या डीवीडी का उपयोग कर कंप्यूटर या लैपटॉप को शुरू करना पड़ सकता है या आपको अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को बदलने या अपग्रेड करने की आवश्यकता हो सकती है इसके लिए आपको अपने कंप्यूटर को एक सीडी या डीवीडी से शुरू करना होगा, फिर आंतरिक हार्ड डिस्क जो कि आपके कम्प्यूटर के CABINET में मौजूद है, जिसे आम तौर पर कैबिनेट या चेसिस के रूप में जाना जाता है।

कभी-कभी आपको अपने पीसी को एक बाहरी स्रोत जैसे पेन ड्राइव, EXTERNAL हार्ड डिस्क बूट करने योग्य सीडी या डीवीडी से प्रक्रिया के दौरान किसी भी जटिलता से बचने के लिए शुरू करने की आवश्यकता होती है। अपने कंप्यूटर को एक बाहरी स्रोत से प्रारंभ करने के लिए आपके पास एक स्टार्टअप डिस्क होनी चाहिए जिसे सामान्यतया बूटेबल डिवाइस के रूप में कहा जाता है। पेन ड्राइव या यूएसबी फ्लैश ड्राइव का उपयोग कर कंप्यूटर शुरू करने के लिए आपको बूटेबल पेन ड्राइव बनाने के लिए एक बूट माध्यम बनाना होगा, इसमें मुफ्त सॉफ्टवेयर की संख्या बाजार में उपलब्ध उनमें से किसी को भी चुनना है।

कंप्यूटर स्टार्टअप की इस प्रक्रिया में आपके पास एक कार्यशील CD-RW या DVD-RW होना आवश्यक है ताकि आप को इन्हें स्रोत या माध्यम में डालें ताकि डिवाइस आरंभीकरण और आवश्यक सिस्टम फाइलें और फ़ोल्डर पढ़ सके जो कंप्यूटर बूटिंग के लिए आवश्यक है । अगर आपने जो सोर्स डाली है वह दूषित या क्षतिग्रस्त हो गई है, क्योंकि प्रक्रिया मेरे आईटी कैरियर में कई बार इस तरह के मुद्दों का सामना कर रही है, इसलिए कृपया अपने स्रोत को किसी सुरक्षित जगह पर रखें और किसी भी खरोंच से बचें और उन्हें संभालने में क्षतिग्रस्त न करें।

कम्प्यूटर बूटिंग के लिए कंप्यूटर सिस्टम या पीसी हार्डवेयर की आवश्यकता

  • BOOTABLE सीडी,डीवीडी या पेन ड्राइव
  • सीडी / डीवीडी और यूएसबी पोर्ट का इस्तेमाल करते हुए कंप्यूटर बूट करें

Boot Computer Using CD or DVD in Hindi PDF Download Free

Boot Computer Using CD or DVD in Hindi PPT Download Free

Step 1 :: डीवीडी-RW में DVD या CD डालें

Step 2 :: कंप्यूटर बूट करते समय अपने सिस्टम को पुनरारंभ करें। सतत बटन दबाकर CMOS सेटअप / BIOS कॉन्फ़िगरेशन पर जाएं KEYBOARD से कुछ BUTTON F1, F2, F10, F12 या DEL नमक कोई भी बटन सतत दबाये ताकि आप कॉन्फ़िगरेशन को चेंज कर सके

Tip - टिप :: (अपने मैनुअल पर जाएं और CMOS सेटअप पर जाने के लिए कौन सी BUTTON दबाएं यह जाने ... कभी-कभी यह देखा जा सकता है कि कंप्यूटर स्क्रीन के नीचे आपको बटन का बारे मैं कंप्यूटर खुद ब खुद डिस्प्ले कर देता हैं)

Step 3:: बटन दबाए जाने के बाद आप नीचे दिए गए चित्र के रूप में पाएंगे .. CMOS/ BIOS चित्र में दिखाए गए अनुसार बिल्कुल नहीं दिख सकता ..आपका बायोस मेरे बायोस से भिन्न होगा ... BIOS फ़ीचर BIOS निर्माता पर निर्भर करता है। लेकिन अगर आप इसे निकट से देखते हैं आप निश्चित रूप से बहुत कुछ समझ पाएंगे| कुछ सामान्य Bios हैं AWARD, PHEONIX

Computer Booting With CD|DvD in hindi

Step 4 :: अब बस ADVANCED SETUP पर जाएं और ENTER दबाएं ... ध्यान दें: बायोस विकल्प को उजागर करने के लिए कीबोर्ड की ARROW BUTTONS की मदद लेनी पड़ती हैं ... कॉन्फ़िगरेशंस का उपयोग करने के लिए आप KEYBOARD से ARROW KEYS या PAGE UP और PAGE DOWN बटन्स का उपयोग कर सकते हैं। आजकल कुछ BIOS उपयोगकर्ताओं को माउस का उपयोग करके सेटिंग बदलने देता है।

Step 5 :: जैसा कि आप नीचे दिये गये चित्र में देख सकते हैं ... मैंने सेटिंग बदल दी है क्योंकि मैं अपने कंप्यूटर को डीवीडी का उपयोग करना चाहता हूं ... अगर पहला बूट विफल हो गया है तो BIOS स्वचालित रूप से दूसरी बूट विकल्प को दिखता है जो कि हार्ड डिस्क है चित्र में... । पहला बूट डिवाइस :: HL-DT-STD Vd -RAM GH2 (यह मेरा डीवीडी-RW है)। दूसरा बूट डिवाइस :: हार्ड डिस्क (ST3250310A3)

Computer Booting With CD|DvD in hindi

Step 6 :: अब कीबोर्ड से F10 दबाकर परिवर्तन सहेजें ... ठीक है और अब आप सिस्टम को पुनः आरंभ करने जा रहे हैं।

Computer Booting With CD|DvD in hindi

Step 7 :: एक के बाद जबकि आपका सिस्टम नीचे दिया गया स्क्रीन दिखाएगा :: यदि यह स्क्रीन दिखाई देती है तो इसका मतलब है कि आपने सफलतापूर्वक अपने सिस्टम को बूट कर दिया है

Computer Booting With CD|DvD in hindi